Mira Road Murder | ‘इस’ शख्स की वजह से हुआ मनोज साने की लिव-इन पार्टनर की हत्या का पर्दाफाश

0
81
Mira Road Murder

मीरारोड (Mira Road Murder) | मुंबई के पास मीरा रोड पर हैवानियत की सारी हदें पार कर देने वाली घटना हुई है। लिव-इन पार्टनर की हत्या और उसके शव को कथित तौर पर ठिकाने लगाने से पूरे मिरारोड में सनसनी मच गई है। हत्या करने वाले आरोपी का नाम मनोज साने (उम्र 56)है।

जिसने पेड़ काटने वाले कटर से बड़ी ही बेरहमी से महिला के टुकड़े-टुकड़े कर दिए और फिर टुकड़ों को कुकर में पकाकर शव को ठिकाने लगाने की कोशिश की। इस मामले में कोर्ट ने आरोपी को 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। हालांकि यह पूरा मामला एक शख्स की वजह से सामने आया। आइए जानते हैं इस पूरे मामले के बारे में विस्तार से।

बुधवार (7 जून) की शाम पुलिस की एक टीम अचानक मीरा रोड स्थित गीता आकाश दीप सोसाइटी पहुंची और सीधे सातवीं मंजिल पर एक फ्लैट में गई, जहां से तेज बदबू आ रही थी। जब पुलिस फ्लैट पर पहुंची तो वे भी चौंक गए, क्योंकि दिल्ली में श्रद्धा हत्याकांड के बारे में उन्होंने मीडिया में जो पढ़ा और सुना था, वही उन्होंने मीरा रोड में देखा था।

घर में तीन कटर मिले 

इस दौरान पुलिस को फ्लैट में महिला के शरीर के अंग मिले। महिला का नाम सरस्वती वैद्य (उम्र 36 साल) है। इस दौरान पुलिस को घर में पेड़ काटने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला कटर भी मिला। उसके बाद पुलिस ने 56 वर्षीय आरोपी मनोज साने को तत्काल गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने जब आरोपी से गहनता से पूछताछ की तो चौंकाने वाली बातें सामने आईं।

पूछताछ में मनोज ने पुलिस को बताया कि, उसकी लिव-इन पार्टनर सरस्वती ने किसी कारणवश आत्महत्या कर ली थी। जब वह घर लौटा तो सरस्वती का शव देखकर वह बुरी तरह सहम गया। इस समय उन्होंने श्रद्धा वाकर हत्याकांड के बारे में काफी सुना था। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उन्होंने शव को ठिकाने लगाने की सोची।

टुकड़ों को मिक्सर में पीसकर कुकर में पकाया

मिली जानकारी के अनुसार आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह शव को काटने के लिए बाजार से पेड़ काटने वाला लाया था. वह तीन दिन से घर में ही अपनी सरस्वती की लाश के टुकड़े-टुकड़े कर रहा था। आरोपियों ने शव के कई टुकड़े कर दिए थे। शव से बदबू न आए इसके लिए उसके टुकड़ों को मिक्सर में पीसकर कुकर में उबाला जाता था।

इस बार उसने हड्डियाँ, मांस और खून अलग कर दिए। कहा जाता है कि इस समय मनोजन के शरीर के कुछ टुकड़े उबाल कर कुत्तों को खिला दिए गए थे। पुलिस के मुताबिक किचन के पास हरी और काली बाल्टियां रखी हुई थीं। जो खून से लथपथ था।

साथ ही शव को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर उस बाल्टी में रख दिया था। एक कमरे से मृत महिला के बाल भी मिले हैं। कमरे से कई काले रंग के बैग भी मिले। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। आगे की जांच के लिए फ्लैट नंबर 704 को सील कर दिया गया है।

‘इस’ शख्स की वजह से हुआ मर्डर का पर्दाफाश

इसी बीच मनोज साने के पड़ोसी ने पुलिस को बताया कि फ्लैट नंबर 704 से दुर्गंध आ रही है। मनोज के पडोसी सोमेश श्रीवास्तव ने समाज के अन्य लोगों को मनोज के फ्लैट से अजीब सी गंध आने की जानकारी दी.

तभी सोमेश श्रीवास्तव पुलिस टीम के साथ मनोज के फ्लैट में दाखिल हुए। इस बारे में सोमेश ने कहा कि फ्लैट से अजीब सी गंध आ रही थी. यहां तस्वीर वैसी है जैसी हमने कई फिल्मों और वेब सीरीज में देखी है।

दरअसल, सोमेश ने ही सबसे पहले अपनी मां को बदबू के बारे में बताया था। लेकिन उनकी मां ने इस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि चूहे के मरने पर ऐसी गंध आती है। लेकिन उसके बाद भी महक कम नहीं हुई। मंगलवार की सुबह तक बदबू बनी रही।

सीवरेज की बदबू का बहाना

सोमेश ने आगे कहा, मैंने तय किया है कि मैं इस बारे में सोसायटी कमेटी को बताउंगा। कुछ देर बाद मैं नीचे पहुंचा और कमेटी के कुछ लोगों को इस बारे में बताया। जब हम बात कर रहे थे तब मनोज अंकल हमसे नीचे मिले।

फिर मैंने उनसे कहा कि आपके फ्लैट से बहुत तेज गंध आ रही है। उस समय उन्होंने कहा कि सीवरेज के कारण यह बदबू आ रही है। मैंने उसका जवाब देते हुए कहा कि हम अंदर जाकर देखेंगे। इस पर चाचा ने कहा रात को वापस आऊंगा, फिर देखते हैं, मनोज अंकल वहां से चले गए।

पुलिस को बुलाया गया

मनोज के जाते ही हमने इसकी सूचना नया नगर थाने में दी। पुलिस भी फौरन आ गई और हम मनोज साने के फ्लैट पर पहुंच गए। इस दौरान पुलिस को फ्लैट में शव होने का शक हुआ। इसलिए मैंने दरवाजा तोड़ दिया और पुलिस के साथ फ्लैट में घुस गया।

अंदर घुसते ही बहुत तेज बदबू आ रही थी। दुर्गंध इतनी भयानक थी कि वहां एक पल भी खड़ा रहना मुश्किल था। इस बार हमें महिला के शरीर के टुकड़े और घर में कई चीजें मिलीं। सोमेश श्रीवास्तव ने विस्तृत जानकारी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here