Crime News : विधवा मां को दूसरे के साथ देख युवक भड़क गया, 2 लोगों के सिर काटकर गंगा में फेंक दिया।

0
47
Crime News: Seeing the widowed mother with another, the young man got angry, cut off the heads of 2 people and threw them in the river

UP Crime News: उत्तर प्रदेश के संभल जिले के राजपुरा इलाके में 2 लोगों के सिर कटे शव मिलने से हड़कंप मच गया है, ये शव 2 दिन के अंतराल पर मिले थे और तभी से पुलिस मामले में सुराग तलाशने में लगी हुई थी।

जांच में पता चला कि दोनों शव बुलंदशहर के कवलना गांव के 30 वर्षीय भूपेंद्र कुमार और 25 वर्षीय जगदीश उर्फ ​​भूरा सिंह के चचेरे भाई के हैं। दोनों की शिनाख्त के बाद सामने आए जुर्म की कहानी सुनकर किसी का भी दिल दहल जाएगा।

अपहृत चचेरे भाइयों की हत्या

भूपेंद्र कुमार और उसका चचेरा भाई जगदीश शनिवार रात लापता हो गया था। नरेश सिंह की शिकायत पर सलेमपुर थाने में धारा 364 (अपहरण) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

नरेश ने बताया कि उसका बेटा भूपेंद्र और भतीजा जगदीश 1-2 अक्टूबर की रात से लापता है। पुलिस जांच में सामने आया कि इन दोनों युवकों का शनिवार रात अपहरण कर बेरहमी से हत्या कर दी गई।

बुलंदशहर के एसएसपी श्लोक कुमार ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में दुर्गेश शर्मा, मुकुल कुमार और लता शर्मा को गिरफ्तार किया है.

भूपेंद्र के साथ मां को आपत्तिजनक हालत में देखा

आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि मृतक भूपेंद्र कुमार में से एक के लता शर्मा के साथ अवैध संबंध थे। लता के बेटे दुर्गेश ने भूपेंद्र के साथ अपनी मां को आपत्तिजनक स्थिति में देखा था, जिसके बाद वह भड़क गए थे।

इसके बाद दुर्गेश ने मुकुल और तुषार के साथ मिलकर भूपेंद्र को मारने की योजना बनाई। एक अक्टूबर को भूपेंद्र अपने चचेरे भाई जगदीश के साथ झांकी देखने गए थे तो आरोपी उन दोनों को अपने साथ घर ले गए और वहां उनकी बुरी तरह पिटाई कर दी।

दोनों को तब तक पीटा गया  

पुलिस ने बताया कि दोनों को तब तक पीटा जब तक वे बेहोश नहीं हो गए। इसके बाद वे भूपेंद्र और जगदीश को कार में बिठाकर राजपुरा के सुनसान इलाके में ले गए और उनका सिर काट दिया।

पुलिस ने बताया कि इसके बाद उसने सिर को बैग में डालकर गंगा नदी में फेंक दिया। बुलंदशहर के एसएसपी श्लोक कुमार ने बताया कि आरोपियों ने इलाके में दो अलग-अलग जगहों पर शव फेंके।

राजपुरा इलाके से भूपेंद्र कुमार का शव बरामद

पुलिस ने बताया कि जगदीश का शव संभल पुलिस ने दो अक्टूबर को बरामद किया, जबकि बुलंदशहर पुलिस ने मंगलवार को राजपुरा इलाके से भूपेंद्र कुमार का शव बरामद किया।

पुलिस ने पहचान के लिए आसपास के जिलों की जांच की थी और आरोपी दुर्गेश को भी हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की थी, जिसके बाद वह टूट गया। दुर्गेश ने कबूल किया कि उसने भूपेंद्र को उसकी मां के साथ अवैध संबंधों के कारण मार डाला था।

आरोपित ने पांच करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी

एसएसपी ने बताया कि घटना को अपहरण का रूप देने के लिए आरोपी ने मृतक भूपेंद्र के मोबाइल से फोन किया और पांच करोड़ रुपये की फिरौती मांगी।

उन्होंने कहा कि आरोपी दुर्गेश ने केलवान के जंगल में धारदार हथियार और 315 बोर की देसी पिस्टल छिपाकर रखी थी।

एसएसपी ने बताया कि जब दुर्गेश को वहां ले जाया गया तो उसने देसी पिस्टल से पुलिस पर फायरिंग कर भागने का प्रयास किया।

पुलिस ने आत्मरक्षा में फायरिंग की, जिसमें दुर्गेश के पैर में गोली लग गई। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here