सावधान रहे : ऐसे लीक होता है स्मार्टफोन से एमएमएस या निजी वीडियो, एक गलती से जिंदगी होगी तबाह

0
104
Be careful: This is how MMS or private video is leaked from smartphone, life will be destroyed by one mistake

Be careful: मोहाली की निजी यूनिवर्सिटी हो या बेंगळूरू के एमएमएस कि ताजा घटना हो, छात्राओं का वीडियो लीक होने के बाद पूरे देश में इसकी चर्चा हो रही है। हालांकि कई आरोपी गिरफ्तार भी हो चुके हैं। लेकिन, अभी भी कई लोगों के मन में यह सवाल है कि निजी वीडियो या एमएमएस लीक कैसे हो जाते हैं।

इसका कोई एक कारण नहीं है। निजी वीडियो या एमएमएस लीक होने के कई कारण हैं। यहां आपको उन सभी संभावित कारणों के बारे में बताया जा रहा है, जिनकी वजह से एमएमएस लीक हो जाता है। इसमें पहला कारण काफी सामान्य है।

इसमें वीडियो को जानबूझकर एक वेबसाइट पर अपलोड किया गया है। अमूमन देखा जाता है कि ऐसा ब्रेकअप के बाद किया जाता है। इसे लेकर मीडिया में कई तरह की खबरें आती रहती हैं। लेकिन, बाकी की वजह टेक्निकल है।

थर्ड पार्टी ऐप्स से सावधान रहें

यानी आपको पता भी नहीं चलेगा और आपका निजी वीडियो लीक हो जाएगा। इसकी एक वजह थर्ड पार्टी ऐप्स हैं जो फ्रॉड करते हैं। ऐसे ऐप कई तरह की परमिशन लेते हैं। जिसकी वजह से उन्हें आपके डिवाइस का फाइल एक्सेस भी मिल जाता है।

ऐस ऐप इन फाइलों को कमांड और कंट्रोल करने के लिए भेजते हैं। जहां से वीडियो पोर्न साइट पर लीक हो गया है। इसी वजह से किसी भी थर्ड पार्टी की वेबसाइट या ऐप को डाउनलोड करने से पहले उसकी पूरी डिटेल चेक कर लें। खासकर उन परमिशन पर ध्यान दें जो ऐप्स मांगती हैं।

फोन बेचने से पहले ध्यान दें

कई बार जब आप किसी दूसरे को फोन बेचते हैं तब भी आपकी फाइल लीक हो सकती है। ज्यादातर मामलों में हम फोन को फॉर्मेट करके दूसरे व्यक्ति को दे देते हैं।

लेकिन, डिलीट हुई फाइल्स को रिकवर किया जा सकता है। इस वजह से सभी फाइलों को डिलीट करने की जरूरत होती है ताकि उन्हें रिकवर नहीं किया जा सके।

आमतौर पर देखा जाता है कि लोग फोन का बैकअप ऑन रखते हैं। इस वजह से उनकी फाइलों का बैकअप गूगल ड्राइव या दूसरी ड्राइव पर चला जाता है। कई बार लोगों को ऐसी फाइल डाउनलोड करनी पड़ती है जिसके लिए ड्राइव का एक्सेस उनसे ले लिया जाता है।

इसकी वजह से थर्ड पार्टी वेबसाइट या ऐप को आपकी ड्राइव का एक्सेस मिल जाता है। ऐसे में वहां अपलोड किए गए वीडियो लीक हो सकते हैं।

इस वजह से आप गूगल एक्टिविटी में जाकर चेक कर लें कि आपने किसी अनजान वेबसाइट को एक्सेस तो नहीं दिया है। इसकी विधि आप यहां क्लिक कर पढ़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here