Banaskantha Love Jihad Story: गुजरात के बनासकांठा में लव जिहाद का ये मामला हैरान कर देने वाला, जानकर आप भी रह जाएंगे दंग

0
88
Banaskantha love jihad people opened front police is investigating

Banaskantha Love Jihad Story: लव जिहाद पिछले कुछ दिनों से सुर्खियां बटोर रहे शब्द है। चाहे महाराष्ट्र का अहमदनगर हो या गुजरात का बनासकांठा, दोनों जगहों पर ‘लव जिहादी’ गैंग सक्रिय है।

झारखंड के दुमका में अंकिता हत्याकांड में लव जिहाद का कनेक्शन भी जोड़ा जा रहा है। गुजरात के बनासकांठा में लव जिहादी गैंग ने न सिर्फ लड़की बल्कि उसके परिवार को भी धर्म परिवर्तन कराया। इसके विरोध में लोग हाथों में भगवा झंडा और पोस्टर लेकर सड़क पर मार्च कर रहे हैं, जिससे लोगों में रोष है।

परिवार ने ही किया धर्म परिवर्तन

बनासकांठा के दीसा में एक मुस्लिम युवक पर हिंदू लड़की को लव ट्रैप में फसाने का आरोप लगाया गया है। इतना ही नहीं पहले नाम बदला और बेटी को फंसाया, फिर उसके बाद मां-भाई का धर्म परिवर्तन कराया।

इसके बाद पत्नी और दोनों बच्चे धर्म परिवर्तन कर अलग घर में रहने लगे। यहां तक ​​कि उन्होंने नमाज पढ़ना भी शुरू कर दिया। अपनी पत्नी और दो बच्चों के धर्म परिवर्तन से परेशान हरेश सोलंकी नाम के शख्स ने आत्महत्या तक करने की कोशिश की।

इसी मोहल्ले के सोहेल शेख और उनके परिवार के सदस्यों पर हरेश सोलंकी की पत्नी और बच्चों को गुमराह कर धर्म परिवर्तन करने का आरोप लगाया गया है। इस मामले में बनासकांठा पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इन पांचों आरोपियों के नाम हैं।

1. एजाज मुस्तफा शेख
2. मुस्तफा पापा शेख
3. आलम पापा शेख
4. सत्तार अब्दुल शेख
5. सोहिल सत्तार शेख

लोगों ने खोला मोर्चा

इस मामले में पुलिस ने गिरफ्तारी भी की है, लेकिन बनासकांठा में हिंदू संगठनों ने लव जिहाद के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जन आक्रोश रैली के दौरान भारी संख्या में लोग जमा हुए।

इस दौरान स्थानीय विधायक ने बहनों-बेटियों को निशाना बनाने वालों को कड़ी चेतावनी दी है। आरोप तो यह भी है कि जब हरेश सोलंकी की पत्नी, बेटी और बेटा धर्म परिवर्तन कर अलग रहने लगे तो उन्होंने अपने परिवार से मिलने की कोशिश की, लेकिन धर्म परिवर्त करवाने के आरोपियों ने हरेश सोलंकी को उसके ही परिवार से मिलाने के लिए 25 लाख रुपये की डिमांड की।

पुलिस जांच कर रही है

कहा जा रहा है कि धर्म परिवर्तन करने वाले आरोपी ने कहा था कि अगर हरेश सोलंकी धर्म परिवर्तन भी करता है, तो वह अपने परिवार के सदस्यों से मिल सकेगा और उनके साथ रह सकेगा।

हालांकि परिवार ने हाईकोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर की थी, जिसमें लड़की और उसकी मां ने कहा है कि वे स्वेच्छा से अलग हुए हैं।

लेकिन पुलिस इस मामले के हर प्रकरण को जोड़ने में लगी हुई है। आरोपियों से पूछताछ कर लव जिहाद की पुरी स्क्रिप्ट और उसका मकसद जानने में लगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here